गाजियाबाद में सूदखोर के खिलाफ भूख हड़ताल

वीडियो / ट्वीट

गाज़ियाबाद में एक दलित परिवार पिछले कई दिनों से भूख हड़ताल पर बैठा है ! लेकिन कोई नहीं सुन रहा है ! यु पी पुलिस बस ट्विट कर रही है लेकिन इन्साफ नहीं दे रही है ! मामला सूदखोरी का है ! डेढ़ साल पहले ओमवती ने एक सूदखोर  से रुपए ब्याज पर लिए थे । जो कि उसे चुकाने थे लेकिन उसकी छोटी बेटी को कैंसर हो गया । जिसका इलाज कराने के लिए वह दिल्ली चले गए  ! और कैंसर का इलाज कराने लगे इसी बीच जब उसका ऑपरेशन हो गया । कुछ दिन बाद ओमवती और उसका पति श्रीपाल वापस गाजियाबाद आया । अपना गांव का खेत बेचकर सूदखोर यानि  ब्याज पर रूपए दिलवाने वाले व्यक्ति को उसके पैसे लौटा देते हैं । कुछ दिन तक तो सही चलता है फिर ब्याज देने वाला  गाजियाबाद छोड़कर गायब हो जाता है । पीडिता के मुताबिक कुछ दिन बाद ही सुंदर शाक्य नामक व्यक्ति और उसके गुंडों द्वारा मकान पर कब्जा कर लिया । ऐसे में उत्तरप्रदेश पुलिस को ट्विट किया गया ! पुलिस ने  ट्वीट कर  मामले में दिलचस्पी लेते हुए ट्वीट किया । कि इनकी जल्द से जल्द मदद की जाएगी लेकिन किसी तरह की कोई मदद नहीं मिली है। महिला अपने बच्चो के साथ जिला मुख्यालय के बाहर भूख हड़ताल पर बैठी हुई है । अब देखने वाली बात यह होगी कि पुलिस सिर्फ ट्विटर पर ही सक्रिय रहती है या दबंगों के खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई भी करती है।

टिप्पणियाँ
Loading...