कॉन्सटेबल राजेश सैनी की हत्या या आत्महत्या?

वीडियो / ट्वीट

रोहिणी के विजय विहार थाने में संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से हुए पुलिसकर्मी की मौत में अब एक नया मोड़ आ गया है।  
जहाँ पुलिस के सूत्र इसको प्राइमा फेसी एक सुसाइड केस करार दे रहे थे , वहीँ मृतक पुलिसकर्मी के परिजनों का आरोप था की  हेड कांस्टेबल राजेश सैनी ने आत्महत्या नहीं की , बल्कि उसकी हत्या की गई है।  दरअसल हेड कॉन्सटेबल राजेश पिछले दो साल से रोहिणी डिस्ट्रिक्ट के विजय विहार थाने में तैनात था।  परिजनों की माने तो राजेश के पास आत्महत्या करने की कोई वजह नहीं थी और घर में सब ठीक था।  पूरे दिन रोहिणी के विजय विहार थाने में ये जद्दो जहद चलती रही और मृतक पुलिसकर्मी के परिजन लगातार पुलिस अधिकारीयों पर हत्या का मुकदमा दर्ज करने के लिये दबाव बनाते रहे।  आखिरकार , पुलिस के आला अधिकारीयों ने पूरे मामले और संदिग्ध परिस्थितियों को देखते हुए थाने के ही एक पुलिसकर्मी को मामले में आरोपी पाया और उसके खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया।  हालांकि अभी तक ये महज आरोप है की हेड कॉन्सटेबल राजेश की हत्या हुई।  सूत्रों ने ये भी बताया की बुधवार शाम राजेश की कुछ सहकर्मियों के साथ नोंक-झोंक हुई थी, लेकिन ऑफ द रिकॉर्ड कुछ पुलिसकर्मियों का ये भी कहना है की मामला आत्महत्या का ही है और पुलिस के आला अधिकारीयों ने परिजनों के दबाव में हत्या का मामला दर्ज किया है। अब ये हत्या है या आत्महत्या ये तो जाँच रिपोर्ट के आने के बाद ही साफ़ होगा। बहरहाल रोहिणी के विजय विहार थाने के ही एक पुलिसकर्मी पर अपने सहकर्मी की हत्या का आरोप लग चुका है और मुकदमा दर्ज कर पुलिस मामले की जाँच में जुट गई है।  
टिप्पणियाँ
Loading...