अच्छाई भी, सच्चाई भी

दिल्ली के बंटी बबली बने प्रेसीडियम के आका ?

0

शिक्षा जगत के बंटी बबली है।ये प्रेसिडियम के बंटी-बबली है।या फिर दिल्ली के मोदी और माल्या बनकर देश से फरार होने की फिराक में है? दिल्ली के सबसे प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थाओं में शुमार प्रेसिडियम के कर्ता-धर्ता सुधा गुप्ता और उनके पति देवेंद्र गुप्ता की ठगी के शिकार उन्हें ऐसे ही नाम के साथ सवाल उठा रहे है।दिल्ली दर्पण टीवी को सैकड़ों लोग फ़ोन कर उनके बारें में जो जानकारी दे रहे है वे चौकाने वाली है।करीब पांच साल से ये लोग अभिभावकों को तरह तरह का  झांसा देकर उनसे पैसे ऐंठ रहे थे।किसी को 15 लाख के बदले बच्चे की फीस माफ़ और 12 पास के बाद मूल रकम लौटने का झांसा दिया तो किसी को मोटा ब्याज हर महीने देने का वादा कर इन्वेस्ट करा रहे थे।लेकिन जैसे है प्रेसिडियम का नाम प्रॉडेन्स हुआ तो इन्हे पता लगा की सुधा गप्ता -देवेंद्र गुप्ता और जीएस मठारू की इस तिगड़ी ने करीब 1500  अभिभाषकों से एक हज़ार करोड़ से ज्यादा की रकम जमा की है।अब ये अभिभावकों को ठेंगा देखा रहे यही,लेकिन अब ये अभिभावक लामबंध हो रहे है ताकि अपनी खून पसीने की कमाई को हाई प्रोफाइल ठगों से निकाल सकें या इन्हे इनकी सजा दिलवा सकें।इसके लिए ये कानून का सहारा तो ले ही रहे है साथ ही दिल्ली दर्पण टीवी और सोशल मीडिया के माध्यम से इनकी पोल भी खोल रहे है।इसके लिए अभिभवकों के कई अलग अलग ग्रुप ने व्हाट्सअप ग्रुप बनाए है तो कई फेसबुक पेज भी तैयार किये ।

टिप्पणियाँ
Loading...