राजधानी का उत्तर पूर्वी जिला बना क्राइम का सबसे बड़ा अड्डा !

उत्तर पूर्वी दिल्ली के न्यू उस्मानपुर थाना क्षेत्र के ब्रहमपुरी इलाके की गली नंबर 18 में अनवर अली पंजाबी परिवार उस वक्त दहशत में आ गया जब ताला ठीक करने के बहाने घर में कुछ बदमाश घुस आए और घर में मौजुद महिला और उसकी बेटी को बंधक बनाकर लूट की वारदात को अंजाम दिया । जिस वक्त ये वारदात हुई उस वक्त अऩवर अपने काम पर गये हुए थे । जिसका फायदा उठा कर दो शख्स ने दरवाजा नॉक किया और अनवर की पत्नी से खराब ताला ठीक कराने के बारे में पूछा, अनवर के घर में एक ताला खराब था । पत्नी ने दोनों शख्स को ताला ठीक कराने के लिए दोनों शख्स को घर के अंदर बुला लिया ।जिसे ठिक कराने के लिये अनवर की पत्नी दोनों शख़्स को घर के अंदर ले आई । लेकिन महिला को शायद ये नहीं पता था की वो किसी वारदात को न्यौता दे रही है । घर में घुसे दोनों शख्स के पास पिस्टल थी जिसे दिखा कर घर में रखा कैश और आभूषण देने को कहा, मां के कनपटी पर पिस्टल लगी देख बेटी ने शोर मचाया तो बदमाशों में युवती का सर दीवार पर मार दिया और दोनों को बंधक बना कर घर मे बेटी की शादी के लिए रखे लाखों के सोने चांदी के आभूषण और 75 हजार रुपये लेकर फरार हो गये  बता दें की  भाग रहे बदमाशों की तस्वीर गली में लगे सिसिटीवी कैमरे में कैद हो गयी । तस्वीरों को देख कर साफ होता है की बदमाश गली में खड़े लोगों की मौजुदगी में फरार होने में कामयाब रहे। मामले की सुचना मिलते ही मौके पर पुलिस भी पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी। लेकिन सवाल ये है की आये दिन लूट , चोरी की वारदातों से इलाकों में लोगो का जीना दुशवार हो गया है लेकिन पुलिस ना तो यहां बढ़ते क्राईम को खत्म कर पा रही है और ना ही उसे कम करने के लिये कोई ठोस कदम उठा रही है ऐसे में ये लोग जाएं तो जाएं कहां ।

टिप्पणियाँ
Loading...