दिल्ली में पॉक्सो एक्ट के मामलों को लेकर गंभीर हुए दिल्ली पुलिस आयुक्त अमुल्य पटनायक , लॉंच किया मिशन ‘नाजुक’

दिल्ली में पॉक्सो एक्ट के बढ़ते मामलों पर दिल्ली पुलिस ने ” नाज़ुक ” अभियान छेड़ा है। इस अभियान के तहत निम्न आय वर्ग इलाकों में रहने वाले बच्चों को हादसों से कैसे बचा जाये, और कैसे ऐसे लोगों की पहचान की जाये या ऐसे हादसों के बाद क्या किया जाये ये समझाया गया।दिल्ली में दर्ज़ आंकड़ों के अनुसार बच्चों पर होने वाले शोषण और अपराध के मामले नार्थ वेस्ट जिले में सबसे ज्यादा है। लिहाज़ा सबसे पहले इस अभियान की शुरुआत यहीं से की गयी है। दिल्ली के भारत नगर थाना क्षेत्र में दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने इस अभियान को लांच किया है।

“नाजुक” अभियान के लांच के मौके पर दिल्ली पुलिस के संयुक्त आयुक्त मनीष अग्रवाल सहित कई डीसीपी , एसीपी, अन्य पुलिस अधिकारी सहित सैकड़ों की संख्या में वज़ीर पुर जे जे कॉलोनी और इंडस्ट्रियल एरिया से सैकड़ों की संख्या में बच्चे और उनके अभिभावक भी मौजूद रहे।बच्चों को नाटक के माध्यम से जागरूक किया गया साथ ही इन्हे अपने अपने इलाके के थाना अध्यक्ष और अधिकारीयों के बारें में भी बताया गया। संयुक्त आयुक्त मनीष अग्रवाल ने इस अभियान को पुलिस आयुक्त की प्राथमिकता बताया। नार्थ वेस्ट डीसीपी विजयंता आर्य ने सभी का धन्यवाद करते हुए उम्मीद जताई की जो नाजुक बात सुनी है वो उन्हें समझ आयी होगी।

टिप्पणियाँ
Loading...