कविनगर पुलिस ने पकड़े 5 अपहरणकर्ता, फिरौती की रकम और हथियार भी हुए बरामद

गाजियाबाद कविनगर थाना के राजनगर से अपहरण हुए बारह वर्षीय मौर्य अरोड़ा का मामला तो आप सभी को याद होगा इस मामले में मौर्य को एक गाड़ी में डाल कर कुछ बदमाश अपहरण कर अपने साथ ले गये थे। इन अपहरणकर्ताओं ने दस लाख की फिरौती लेने के बाद मौर्य को छोड़ा था।दरअसल मौर्य के डरे हुए मां बाप ने 15 फरवरी को फिरौती की रकम दे कर अपना बेटा छुड़वाया था जबकि इस बात की जानकारी पुलिस को 17 फरवरी को दी गयी थी। जिसके बाद पुलिस ने घेराबंदी करके पांच बदमाशों को गिरफ्तार कर आठ लाख रुपए नगद व तीन तमंचे व दो चाकू बरामद कर लिए हैं।पकड़े गये  बदमाशों की पहचान सोनू ,प्रदीप ,पवन, प्रमोद और अन्य प्रमोद के नाम से हुई है इनमें से कुछ बदमाश दिल्ली के रहने वाले हैं तो कुछ गाजियाबाद के बताये गये हैं।

दरअसल,10 फरवरी को राजनगर सेक्टर-दो में रहने वाले अमित अरोड़ा का बारह वर्षीय पुत्र मौर्य अरोड़ा शाम सात बजे के आस पास घर के पास से ही लापता हो गया था।जबकि मौर्य की चप्पलें कॉलोनी के सुरक्षा गेट के बाहर पड़ी मिली थी जिसके बाद अपहर्ण का शक गहराया था । जब इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कराई गयी तो पुलिस बच्चे के अपहरणकर्ताओं को पकड़ने के लिए जुटी हुई थी। लेकिन अपहरणकर्ताओं व पीड़ित परिवार के बीच हो रही बातचीत का पुलिस को आभास नहीं था।15 फरवरी को पीड़ित परिवार फिरौती की रकम देकर बच्चे को छुड़ाया लाया,लेकिन इसकी जानकारी पुलिस को नहीं दी। दो दिन बाद पुलिस को पूरे मामले की जानकारी मिली तो पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपियों को पकड़ा और फिरौती की रकम भी कब्जे में ले ली। 

टिप्पणियाँ
Loading...