बीजेपी ने नहीं दिया टिकट तो उदित राज ने छोड़ दी पार्टी बन गये निर्दलीय उम्मीदवार

0

दिल्ली की उत्तर पश्चिम सीट से सांसद डॉ. उदित राज दोबारा टिकट न मिलने को लेकर नाराज़ दिखे और सोमवार आधी रात को उदित राज के सैंकड़ों समर्थकों ने दिल्ली भाजपा प्रदेश कार्यालय का घिराव किया और उदित राज को टिकट देने की मांग करते हुए। भाजपा हाईकमान के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बता दें की हंगामा कर रहे उदित राज के समर्थकों ने भाजपा प्रदेश कार्यालय में मौजूद कांफ्रेंस हॉल को भी अपने कब्जे में ले लिया। इसी हॉल में पंजाबी गायक हंसराज हंस और भाजपा के अन्य नेता चुनाव और नामांकन को लेकर योजनाएं बना रहे थे। देर रात कार्यालय का माहौल बिगड़ता देख मौके पर पुलिसबल भी पहुंचा।

और नारेबाजी कर रहे समर्थकों को वहां से हटाने का प्रयास भी किया। प्रदर्शनकारियों ने भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की भी एक नहीं सुनी। बिगड़ते माहौल को देखते हुए पार्टी के कई बड़े नेताओं ने कार्यालय से जाने में ही बेहतरी समझी। बता दें की सांसद डॉ उदित राज ने अपने ट्यूटर हैंडल के ज़रिये पहले ही बीजेपी को आगाह किया था। जिसमें उन्होंने लिखा था।

मैनें अपनी पार्टी, विलय की पूरे देश में मेरे करोड़ों समर्थक मेरी टिकट को लेकर बेचैन हैं। उत्तर पश्चिमी दिल्ली से मेरा नाम अभी तक घोषित नहीं किया। मेरे समर्थकों ने आज शाम 4 बजे तक का इंतजार करने को कहा है। आपका उदित राज

इस ट्यूट से साफ था की उदित राज और उनके समर्थक कुछ ज़रुर करने वाले हैं जो सोमवार की आधी रात को देखने को मिल ही गया। इसके बाद मंगलवार की सुबह सांसद उदित राज ने लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने की स्थिति में पार्टी छोड़ने की धमकी भी दी है।

बाईउदित राज ने ज़ोर तो एड़ी चोटी का लगाया लेकिन उनका कोई दांव काम नहीं आया और पार्टी ने उन्ही के सांसदीय क्षेत्र से पंजाबी सिंगर हंसराज हंस को टिकट दे दिया

टिप्पणियाँ
Loading...