नेताओं की अनदेखी का शिकार है रानी खेड़ा गांव

0

दिल्ली का रानी खेड़ा गाँव इन दिनों प्रशासनिक उपेक्षा का शिकार हो रहा है।  सड़क से लेकर जोहड़ और चौपाल तक सबकी हालत खस्ता है लेकिन बार बार कहने के बाद भी कोई सुनवाई नहीं करता।  जलकुम्भी से भरे इस जोहड़ को देख रहे हैं आप।  डेढ़ दशक पहले तक यही जोहड़ गांव में पिने के पानी का भी बड़ा स्रोत होता था , लेकिन प्रशसनिक उपेक्षा की वजह से इस पर जल कुम्भी ने कब्ज़ा कर लिया।  कई वर्षों से इसकी सफाई नहीं हुई इसकी वजह से इसका पानी भी ख़राब हो गया है , जो गांव में बीमारियां फैला रहा है। 

वहीँ दूसरी और गांव का एक मात्र चौपाल भी अपने आखिरी दिनगिन रहा है उखड़े प्लास्टर से झांकती दीवारें बता रहीं हैं कि वर्षों से किसी ने इसकी सुध नहीं ली। ऐसा नहीं की इसकी जानकारी नेताओं और अधिकारीयों को न दी गई हो, लेकिन इसके बाद भी सभी ने इसकी तरफ से आँखें फेर रखी हैं । 

टिप्पणियाँ
Loading...