वित्त मंत्री को प्याज़ की बढ़ती कीमतों से कोई मतलब नहीं

एक तरफ़ प्याज़ के आसमान छूते दाम, दूसरी तरफ़ सीतारमण का ये बयान

गोदामों में सड़ गया है 32,000 टन प्याज़, 120 रु किलो हुआ प्याज़

मैं ज़्यादा प्याज़ लहसुन नहीं खाती: निर्मला सीतारमण

जहां एक तरफ प्याज़ के दाम आसमान छू रहे हैं, वहीं दूसरी ओर वित्त मंत्री को प्याज़ की बढ़ती कीमतों से कोई मतलब नहीं…कारण जानेंगे तो आप भी हैरान हो जाएंगे…दरअसल निर्मला सीतारमण का कहना है कि वो ज़्यादा प्याज़ लहसुन नहीं खाती…और उन्होंने संसद में ये कहकर प्याज़ की बढ़ती कीमतों को नज़रअंदाज़ कर दिया. कमाल है, एक तरफ, जनता 120 रुपए किलो प्याज़ खरीदने को मजबूर है और दूसरी तरफ वित्त मंत्री ऐसे गैर-ज़िम्मेदाराना बयान दे रही हैं.

टिप्पणियाँ
Loading...