नार्थ वेस्ट दिल्ली – एक घंटे देर से ड्यूटी पहुंचे 36 लापरवाह पुलिसकर्मी सस्पेंड

मुकेश राणा , दिल्ली दर्पण टीवी – अशोक विहार।

नार्थ वेस्ट जिला पुलिस उपायुक्त वैजयंता आर्या ने ड्यूटी पर लापरवाही बरतें पर एक इस्पेक्टर सहित 36 पुलिस कर्मियों को सस्पेंड किया है। आरोप है की ये सभी पुलिस कर्मी अपनी ड्यूटी पर एक घटना देर से पहुंचे थे। दिल्ली दर्पण टीवी के पास इस सस्पेंसन की कॉपी मौजूद है।

डीसीपी नार्थ वेस्ट के इस कदम से जिला पुलिस में हड़कंप है। ये सभी पुलिस कर्मी रिजर्व फ़ोर्स में काम कर रहे थे। इनमें एक आरआई यानी रिजर्व इंस्पेक्टर भी है। डीसीपी ने इतनी बड़ी कार्यवाही कर यह साफ़ संकेत दे दिया है की ड्यूटी पर लापरवाही बरतने वालों की अब खैर नहीं है। दिल्ली दर्पण टीवी से नाम न बताने की शर्त पर कई पुलिस कर्मियों और थाना अध्यक्षों ने की डीसीपी साहिबा बहुत सख्ती से काम ले रही है।

बात केवल नार्थ वेस्ट जिला पुलिस की ही नहीं है। पूरी दिल्ली में दिल्ली पुलिस बेहद दबाव और तनाव में काम कर रही है। दिल्ली के हर थाना स्टाफ की भारी कमी से जूझ रहा है। जबकि अपराध और काम का दायरा लगातार बढ़ रहा है। दिल्ली में वाहन चोरी , स्नेचिंग और सेंधमारी  की घटनाओं को बहुत गंभीरता से लिया जा रहा है। दिल्ली में पुलिस का असली काम कम , कागजी काम ज्यादा हो रहा है। हर थाना में कोविड के चलान , सेन्चिंग और वाहन चोरों के केस दर्ज़ करने का भारी दबाव है। इस पर जुल्म यह ही स्टाफ  की भारी कमी की शिकायत किये बैगर पिकेट पर स्टाफ हर हाल में मौजूद होना चाहिए। कोर्ट के काम में भी बहुत टाइम लग जाता है।

पुलिस कर्मियों का दर्द है की उन्हें लगातार दो-दो दिन बिना आराम ड्यूटी करनी पड़ रही है। यही वजह है की दिल्ली में थाना अध्यक्ष से निचला स्टाफ ज्यादातर छुट्टी के जुगाड़ में लगा रहता है। थाना अध्यक्ष भी कई कई सप्ताह तक घर नहीं जा पा रहे है। असली पुलिसिंग का काम हो ही नहीं पा रहा है। 

टिप्पणियाँ
Loading...