फरीदाबाद में चला शिशु गर्भपात के खिलाफ अभियान

मनोज सूर्यवंशी, संवाददाता

दिल्ली एनसीआर।। बल्लभगढ़ स्थित सेक्टर 3 के प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत महिला स्वास्थ्य कर्मचारी द्वारा गर्भपात की दवाई देते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम ने रंगे हाथ पकड़ने में कामयाबी हासिल की है।

डिप्टी सिविल सर्जन और एसएमओ की टीम ने इस महिला स्वास्थ्य कर्मी द्वारा दी गई गर्भपात की दवाई और एक हजार नगद रुपए भी मौके से बरामद करते हुए उसकी वीडियो भी बनाई है। फिलहाल स्वास्थ्य विभाग की टीम  द्वारा पुलिस को सूचना देकर एमटीपी एक्ट के तहत अगली कार्रवाई की जा रही है।


टीम में शामिल डिप्टी सिविल सर्जन डॉ हरीश आर्य और एसएमओ डॉ राजेंद्र ने बताया कि फरीदाबाद के सीएमओ को लंबे समय से शिकायत मिल रही थी की बल्लभगढ़ स्थित हॉस्पिटल में कार्यरत महिला स्वास्थ्य कर्मचारी द्वारा अवैध रूप से गर्भपात की दवाइयां दी जा रही हैं। जिस पर डॉक्टरों की छापामार टीम गठित की गई और एक नकली महिला को मरीज बनाकर भेजा गया।

जिसे इस महिला स्वास्थ्य कर्मचारी सुनीता ने क्षेत्र के एक होटल के पास 3:30 बजे बुलाया और उसे गर्भपात की दवाइयां देते हुए हजार रुपए ले लिए जैसे ही उसने रुपए लिए डॉक्टरों की टीम ने उसे रंगे हाथों पकड़ ते हुए दी गई दवाइयां और रुपए बरामद कर लिए । डॉक्टरों ने बताया कि इस मामले की सूचना पुलिस को दे दी गई है। और अगली कार्रवाई की जा रही है । उन्होंने बताया की लिंग अनुपात को कम करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने मुहिम चलाई हुई है उसी मुहिम के तहत इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया है।

टिप्पणियाँ
Loading...