glam orgy ho spitroasted.pron
total italian perversion. jachub teens get pounded at orgy.
site

Delhi Crime : फ्रॉड कंपनी पर CBI का शिकंजा, फुटवियर ट्रेडिंग की आड़ में ऑनलाइन सट्टेबाजी का खेल, केस दर्ज

Delhi Crime : एफआईआर में कहा गया है कि पैसों के कई लेनदेन डाफाबेट, डाफा स्पोर्ट्स, डाफा बेटडी और अन्य के नाम से किये गये हैं। देश के कई राज्यों में लोग डाफाबेट वेबसाइट का इस्तेमाल ऑनलाइन सट्टेबाजी में करते हैं 

दिल्ली दर्पण टीवी ब्यूरो 
सीबीआई ने दिल्ली की एक कंपनी के खिलाफ ऑनलाइन सट्टेबाजी को लेकर केस दर्ज किया है। केंद्रीय एजेंसी ने Betrue Ecom Solutions Pvt Ltd और इसके निदेशकों पर यह केस दर्ज किया है। इन पर आरोप है कि यह कंपनी ऑनलाइन स्पोर्ट्स बेटिंग और ऑनलाइन जुए के खेल में शामिल हैं। जांच एजेंसी का यह भी आरोप है कि दिल्ली की यह कंपनी फिलपिंस आधारित एक ऑनलाइन वेब प्लेटफॉर्म Dafasports की मिलीभगत से यह काम कर रही है। केंद्रीय एजेंसी का कहना है कि कंपनी के अकाउंट से संदिग्ध ट्रांजेक्शन का पता चला है। 2 मार्च, 2019, से लेकर 31 मई, 2019 के बीच इस कंपनी के बैंक खाते में 23.37 करोड़ रुपये आए और 23.33 करोड़ रुपये निकाले गये। बता दें कि इस दौरान इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) भी खेला जा रहा था।

एजेंसी ने न्यू दिल्ली के करोल बाग में स्थित इस कंपनी और इसके निदेशकों योगेश कुमार और राकेश प्रसाद गुप्ता के खिलाफ शुरुआती जांच-पड़ताल की थी। इसमें इनके Dafasports और Dafabet से कनेक्शन का पता चला था। सीबीआई की जांच से पता चला कि कंपनी Dafabet.com से जुड़ी हुई है और यह ऑनलाइन फुटवियर ट्रेडिंग की आड़ में ऑनलाइन बेटिंग और गैम्बलिंग में शामिल है। इन्होंने  www.dafabet.com के अकाउंट में कुछ पैसे डाले ते लेकिन बाद में यह पैसे Be True Ecom Solutions Private Limited के बैंक अकाउंट में आ गए थे। जो यह दर्शाता है कि इनका डाफाबेट से कनेक्शन है। सीबीआई की एफआईआर में जो शुरुआती जांच रिपोर्ट दी गई है उसमें इस बात का जिक्र किया गया है।

पैसे देने वालों के बयान से यह भी साबित हुआ है कि वो किसी Betrue Ecom Solution Private Limited नाम की कंपनी से जुड़े नहीं थे। इस एफआईआर में कहा गया है कि पैसों के कई लेनदेन डाफाबेट, डाफा स्पोर्ट्स, डाफाबेटअपडी और अन्य के नाम से किये गये हैं। देश के कई राज्यों में लोग डाफाबेट वेबसाइट का इस्तेमाल ऑनलाइन सट्टेबाजी और जुएबाजी में करते हैं। दिल्ली की इस कंपनी के बैंक खाते में पैसा डिपॉजिट करने वाले ज्यादातर लोग आंध्र प्रदेश के हैं। सीबीआई का आरोप है कि डाफाबेट डॉट कॉम को फिलीपींस के मकाटी में है और डाफा स्पोर्ट्स, डाफाबेट का हिस्सा है। यह वेबसाइट इंडियन करेंसी में भी पैसे लेती है।

टिप्पणियाँ
Loading...
bokep
nikita is hot for cock. momsex fick meinen arsch du spanner.
jav uncensored