Media Transition :अब यूटूबर बन मोदी सरकार और गोदी मीडिया से फाइट करेंगे रवीश कुमार ! एनडीटीवी से दिया इस्तीफा 

सीएस राजपूत 

प्रख्यात पत्रकार रवीश कुमार ने  एनडीटीवी से इस्तीफा देकर सबसे पहले देश की जनता को माननीय जनता लिखते हुए ट्वीट किया है कि मेरे होने में आप सभी शामिल हैं। आपका प्यार ही मेरी दौलत है। आप दर्शकों से एकतरफा और लंबा संवाद किया है। अपने यूट्यूब चैनल पर। यही मेरा नया पता है। सभी को गोदी मीडिया की गुलामी से लड़ना है। मतलब रवीश कुमार क्या करने जा रहे हैं उसके संकेत उन्होंने जनता के लिए किये अपने ट्वीट में दे दिये हैं।

रवीश कुमार अब अपने यूट्यूब चैनल के माध्यम से मोदी सरकार से कम गोदी मीडिया से लड़ते नजर आएंगे। मतलब पुण्य प्रसून वाजपेयी, अभिसार शर्मा, अजीत अंजुम की तरह यूट्यूबर बन जाएंगे। हां यह कहा जा सकता है कि रवीश कुमार की पारी धुआंधार होगी। उनके निशाने पर मोदी सरकार तो होगी ही साथ ही अडानी अम्बानी के साथ ही गोदी मीडिया भी होगी। 

दरअसल रवीश कुमार ने एनडीटीवी से इस्तीफा नई दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड (NDTV) के फाउंडर और डायरेक्टर प्रणय रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय के अपने पदों से इस्तीफा देने के बाद दिया है। उम्मीद के अनुसार एनडीटीवी के नए बोर्ड ने प्रणय रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय का इस्तीफा मंजूर भी कर लिया है। मतलब ये दोनों पति पत्नी अब ये NDTV के प्रमोटर और मैनेजमेंट कंपनी से बाहर हो गए हैं। बाकायदा  एनडीटीवी लिमिटेड ने कल स्टॉक एक्सचेंज को यह जानकारी दे दी है। 

दरअसल अडानी ग्रुप की एनडीटीवी के अधिग्रहण के लिए ओपन ऑफर के बीच ये खबर आई है। अडानी समूह के समाचार मीडिया कंपनी एनडीटीवी के प्रमोटर समूह वाहन आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड में 99.5 फीसदी हिस्सेदारी हासिल कर ली है और इसका अधिग्रहण पूरा कर लिया है। दरअसल आरआरपीआर नई दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड (एनडीटीवी) का प्रमोटर ग्रुप है। एनडीटीवी के नए बोर्ड ने तत्काल प्रभाव से आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड बोर्ड में संजय पुगलिया और सेंथिल चेंगलवारायण को निदेशक नियुक्त किया है। 

 ज्ञात हो कि अडानी ग्रुप ने अगस्त में ही विश्व प्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड का अधिग्रहण करने का ऐलान किया था। एनडीटीवी की प्रमोटर फर्म आरआरपीआर होल्डिंग ने सोमवार को कहा था कि उसने अदाणी समूह के स्वामित्व वाले विश्व प्रधान कमर्शियल (वीसीपीएल) को अपनी इक्विटी पूंजी के 99.5 फीसदी शेयरों को स्थानांतरित कर दिया था, इस प्रकार अदानी समूह द्वारा एनडीटीवी के आधिकारिक अधिग्रहण को पूरा किया गया है। 


 आंकड़े के मुताबिक, शेयरों के ट्रांसफर से अदानी समूह को एनडीटीवी में 29.18 फीसदी हिस्सेदारी का नियंत्रण मिल जाएगा।  डायवर्सिफाइड समूह भी मीडिया फर्म में 26 फीसदी हिस्सेदारी के लिए एक ओपन ऑफर लाया है. 22 नवंबर को शुरू हुए ओपन ऑफर में शेयरधारकों ने अब तक 53 लाख शेयर या 1.67 करोड़ शेयरों के निर्गम आकार का 31.78 फीसदी हिस्सा देखा है. ओपन ऑफर 5 दिसंबर को बंद होगा।

टिप्पणियाँ बंद हैं।

|

Keyword Related


prediksi sgp link slot gacor thailand buku mimpi live draw sgp https://assembly.p1.gov.np/book/livehk.php/ buku mimpi http://web.ecologia.unam.mx/calendario/btr.php/ togel macau http://bit.ly/3m4e0MT Situs Judi Togel Terpercaya dan Terbesar Deposit Via Dana live draw taiwan situs togel terpercaya Situs Togel Terpercaya Situs Togel Terpercaya slot gar maxwin Situs Togel Terpercaya Situs Togel Terpercaya Slot server luar slot server luar2 slot server luar3 slot depo 5k togel online terpercaya bandar togel tepercaya Situs Toto buku mimpi