Saturday, May 25, 2024
spot_img
Homeअन्यप्रधानमंत्री और राष्ट्रपति से दिव्यांग युवती ने क्यों मांगी इच्छामृत्यु ?

प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति से दिव्यांग युवती ने क्यों मांगी इच्छामृत्यु ?

मध्य प्रदेश में एक दिव्यांग युवती ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु मांगी है। मामला मीडिया में आने के बाद शिवराज सरकार में मंत्री विश्वास सारंग ने युवती की हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया है।
मामला राजधानी भोपाल का है जहां लक्ष्मी यादव नाम की दिव्यांग युवती ने पीएम, राष्ट्रपति, विदेश मंत्री और सीएम शिवराज को पत्र लिख अपनी दास्तां सुनाई। लक्ष्मी ने पत्र में लिखा है कि दिव्यांग होने के बावजूद उसने LLM और M.PHIL की डिग्री हासिल की है लेकिन इसके बावजूद उसके पास नौकरी नहीं है। मोदी को लिखी चिट्ठी में लक्ष्मी ने लिखा है कि मध्यप्रदेश में दिव्यांगों के लिए कई योजनाएं हैं लेकिन उसे इसका लाभ नहीं मिल रहा है। उसने ये भी लिखा कि नौकरी में दिव्यांगो को आरक्षण होने के बावजूद उसे नौकरी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है लेकिन कहीं से नौकरी ना मिलने के कारण उसे इच्छामृत्यू की अनुमति दी जाए।मोदी को लिखी चिट्ठी में लक्ष्मी ने लिखा है कि मध्यप्रदेश में दिव्यांगों के लिए कई योजनाएं हैं लेकिन उसे इसका लाभ नहीं मिल रहा है। उसने ये भी लिखा कि नौकरी में दिव्यांगो को आरक्षण होने के बावजूद उसे नौकरी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है लेकिन कहीं से नौकरी ना मिलने के कारण उसे इच्छामृत्यू की अनुमति दी जाए।

ये खबर सामने आते ही शिवराज सरकार में सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग ने लक्ष्मी को कांट्रेक्ट बेस पर बैंक में नौकरी देने का भरोसा दिया। सारंग ने बकायदा ये भी कहा कि फिलहाल  नौकरी कांट्रेक्ट पर है और बैंक में परमानेंट नौकरी के लिए लक्ष्मी यदि कोचिंग करना चाहती है तो उसकी आर्थिक मदद भी की जाएगी। इससे पहले भी विश्वास सारंग ने ट्वीट पर एक ठेकेदार की शिकायत मिलने के बाद उसका तीन साल पुराना भुगतान करवा दिया था जिससे उसे पत्नी के उलाज के लिए आर्थिक सहायता मिल गई थी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments