ब्राउजिंग श्रेणी

अपराध

बच्चों को School भेज रहे हैं या मौत के मुंह में

गौर से देखिए इस वैन को, इसमें आपके बच्चे बैठे हैं कोई भेड़, बकरी या मुर्गी नहीं, लेकिन इस वैन में वो भेड़, बकरियों और मुर्गियों से ज्यादा भी नहीं हैं। ये वही मासूम हैं जिन्हे आप अपने पलकों पर बिठाकर रखते हैं, लेकिन इस वैन में इनकी हालत

Badshah Khan Civil Hospital का वो सच, जिसे आप नहीं जानते

दिल्ली से सटे फरीदाबाद का बादशाह खान सिविल अस्पताल एक बार फिर से चर्चाओं में है… वजह है अस्पताल प्रबंधन की असंवेदनशीलता। जिसकी वजह से छज्जूपुर से आई निर्मला को घंटों अस्पताल के इमरजेंसी के बाहर बरसात में गीली जमीन पर घंटों कराहते हुए

अभिभावक ही कर रहे है अपने बच्चों कि जान से खिलवाड़

   कहते हैं कि बच्चे अपने माता पिता को देखकर ही सीखते हैं। जो वो सीखते हैं, वही जीवन भर समाज में दोहराते हैं। अगर ये सच है तो आप अपने बच्चों को क्या सीखा रहे हैं। क्या आप चाहते हैं कि आपका बच्चा बड़ा हो कर ट्रैफिक नियमों की अवहेलना करता हुआ

Max Hospital पर ज्यादा बिल बनाने का लगा आरोप

मैक्स का शालीमार बाग ब्रांच अस्पताल एक बार फिर आरोपों के घेरे में हैं। इस बार अस्पताल पर गलत बिलिंग का आरोप लगा है। अस्पताल में 7 दिन इलाज के लिए भर्ती रहे राजकुमार बंसल और उनके बेटे दीपक बंसल का आरोप है कि 7 दिन में इलाज तो हुआ नहीं, 

आजादपुर में ट्रक की टक्कर से बुजुर्ग की मौत 

आजादपुर फल मंडी में ट्रक से कुचल कर बुजुर्ग की मौत हो गई।  बुजुर्ग की पहचान मंडी में ही काम करने वाले 55 वर्षीय मूलचंद के रूप में हुई है। वह मूल रूप से आजमगढ़  थे और पिछले 35 साल से मंडी में पल्लेदारी का काम करते थे।  घटना गुरुवार रात 12