Saturday, June 22, 2024
spot_img
Homeराजनीतिनोटबंदी के खिलाफ लामबंद हुई बवाना चैम्बर ऑफ़ इंडस्ट्रीज़ और केजरीवाल सरकार 

नोटबंदी के खिलाफ लामबंद हुई बवाना चैम्बर ऑफ़ इंडस्ट्रीज़ और केजरीवाल सरकार 

दिल्ली,

छोटे उद्यमियों को नोटबंदी के बाद खासी परेशानियों का सामना करना पद रहा है , लिहाजा उनके बीच मोदी सरकार के इस फैसले को लेकर असंतोष भी है और गुस्सा भी।  ऐसे में बवाना चैम्बर ऑफ़ इंडस्ट्रीज़ ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के साथ इस फैसले के विरोध में मुहीम चलाने का फैसला किया है।  बवाना इंडस्ट्रियल एरिया में रविवार के दिन उद्यमियों और मुख्यमंत्री के बीच बैठक में  दिल्ली सरकार के मंत्री और स्थानीय विधायक भी पहुँचे और एक सुर में मोदी सरकार के फरमान की आलोचना की।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अपना रुख पहले ही साफ कर दिया था और बवाना में भी केजरीवाल ने प्रधानमंत्री पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने का सिलसिला जारी रखा।  
बवाना चैम्बर ऑफ़ इंडस्ट्रीज़ के चेयरमैन प्रकाशचंद जैन ने लघु उद्यमियों और मजदूरों की समस्या को मुख्यमंत्री के सामने रखा और इस बैठक में बवाना इंडस्ट्रियल एरिया के व्यापारियों की ओर से , सरकार के फैसले का पुरजोर विरोध किया।
 इस मौके पर बवाना चैम्बर ऑफ़ इंडस्ट्रीज़ के सदस्य राज जैन ने भी मोदी सरकार पर तल्ख़ टिपण्णी करते हुए , मोदी सरकार के अच्छे दिन के दावों की पोल खोली और व्यापारियों के सामने अपने विचार रखे।
 बैंकों में कैश की कमी से छोटे उद्यमियों को कई तरह की परेशानियाँ आ रही है , बहुतायत जगहों पर उन्हें कैश रुपयों की जरूरत होती है लेकिन दिन भर लाइन में लगने के बाद भी ज्यादातर लोग बैरंग ही वापस लौटते हैं। बवाना चैम्बर ऑफ़ इंडस्ट्रीज़ ने ऐसे में अपना रुख साफ़ कर दिया है की वो मोदी सरकार के फैसले के विरोध में है , और नोटबंदी के खिलाफ केजरीवाल के मुहीम में अब साथ देते दिखेंगे।
बैठक में दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येन्द्र जैन , बवाना से विधायक वेदप्रकाश , आप ट्रेड विंग के अध्यक्ष ब्रजेश गोयल और बवाना चैम्बर ऑफ़ इंडस्ट्रीज़ से जुड़े सैंकड़ों लघु उद्यमी मौजूद रहे।
देखें विडियो रिपोर्ट :
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments