Monday, May 20, 2024
spot_img
Homeअपराधपति-पत्नी का झगड़ा और अपहरण

पति-पत्नी का झगड़ा और अपहरण

[bs-embed url=”https://youtu.be/J2T5d58EsWs”]https://youtu.be/J2T5d58EsWs[/bs-embed]

पति पत्नी के झगड़े में पत्नी के मायके वालों ने दिया अपहरण,चोरी और मारपीट जैसी वारदात को दिया अंजाम । दरअसल मामला उत्तम नगर थाना क्षेत्र के ओम विहार का है , जहाँ पर इस वारदात को अंजाम दिया गया. मामला पति पत्नी के झगड़े से शुरु हुआ। लगभग 2 महीने पहले राजेन्द्र के बेटे भरत की शादी विजयपाल की बेटी प्रियंका से हुई थी जो की बाबरपुर के निवासी है। मगर आरोप है की शादी के 15 दिन बाद से ही प्रियंका अपने पति और ससुराल वालों से झगडे करती रहती थी। दोनों पक्षो में मतभेद बढ़ता रहा और दोनों पक्ष पुलिस में जाकर एक दूसरे पर आरोप मढ़ते रहे। भरत की पत्नी प्रियंका और प्रियंका के मायके वालों को ये बर्दाश्त नही हुआ तो उन्होंने रात के समय भरत के घर पर धावा बोल दिया , उस वक्त जब भरत के परिवार के सभी लोग शादी में गए हुए थे। ये सब कैद हो रहा था सीसी टीवी की तीसरी आँख में, सीसीटीवी में साफ देखा जा सकता है कि आरोपियो ने चेहरे पर कपड़ा बांधकर हाथो में डंडे बेसबॉल लिये पहले तो कैमरे को तोड़ा फिर तोड़फोड़ की और दूसरे घर पर सामने खड़ी स्कूटी को भी तोड़ डाला उसके बावजूद भी उनका मन नही भरा तो घर पर रहने वाले युवक को जो की स्कूटी पर घर की तरफ आ रहा था उसे वैन में अगवा कर और स्कूटी को भी अपने साथ बाबरपुर ले गये जो की प्रियंका का मायका है। उत्तम नगर थाने में पहले ही राजकुमार के अपहरण की सुचना दे दी गई थी जिसके बाद उत्तम नगर थाना के SHO कुसुम पाल ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए ए एस आई अभय राज को इस मामले की कमान सौपी — जिसमे देरी किये बिना ए एस आई अभय राज ने तुरन्त अपनी कार्यवाही शुरू की तो पता लगा की राजकुमार जिसका अपहरण हुआ था वो पूर्वी दिल्ली के वेलकम थाना में मौजूद था। पर वहाँ भी दुविधा बनी हुई थी की आखिर ये मामला क्या है ? लेकिन जाँच अधिकारी अभय राज ने अपनी सूझबूझ से अधिकारीयों को पूरा माजरा समझाया। जब राजकुमार ने आपबीती बतायी तब पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया और आरोपि—– विशाल,नीरज,दीपक, और विजयपाल की तलाश में जुट गई है। उत्तम नगर थाना पुलिस का यह कार्य काफी सरहानीय है जिसमे तुरन्त कार्यवाही के चलते युवक को न सिर्फ बचाया बल्कि सही सलामत परिजनों को भी सौंप दिया। अब पीड़ित राजकुमार—- थाना उत्तम नगर, दिल्ली पुलिस व् SHO और ए एस आई अभय राज का तहे दिल से धन्यवाद कर रहा है और तारीफे करने से भी नही थक रहा है जिन्होंने उसे उन आरोपियों के चंगुल से बचाया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments