Monday, May 20, 2024
spot_img
Homeराजनीतिजाट आरक्षण संघर्ष समिति ने किया जाट संकल्प यात्रा का आयोजन ,...

जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने किया जाट संकल्प यात्रा का आयोजन , शहीद भगत सिंह को किया नमन

शहीदे आजम भगत सिंह के २७ सितम्बर को उनके ११० वें जन्म दिन पर जाट संकल्प यात्रा का शुभारम्भ  हुआ। संकल्प  यात्रा  इंडिया गेट दिल्ली  से शुरू होकर पंजाब के हुसैनीवाला तक समापन पर पहुंची  । इसका आयोजन अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री यशपाल मलिक के नेतृत्व में किया गया था।  जाट आरक्षण समिति से जुड़े लोगों ने इंडिया गेट पर देश के लिए बलिदान देने वाले अमर जवानों को श्रद्धा सुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी साथ ही संकल्प लिया  भगत सिंह की तरह जाट समाज के अधिकारों की लड़ाई  के लिए जरूरत पड़ने पर हर कुर्बानी  देने को तैयार है। ५०से ज्यादा गाड़ियों का कारवां इसके बाद दिल्ली के दिवंगत मुख्यमंत्री डॉ साहिब सिंह वर्मा की समाधि  पर पहुंचा जहां  उन्हें श्रद्धांजलि   अर्पित कर कारवाँ हरियाणा के रोहतक में रुका जहां जाट आरक्षण से जुड़े छोटूराम की मूर्ति पर पुष्प अर्पित किये।   इसके बाद हरियाणा के ही मेहम के ऐतिहासिक चबूतरे पुष्पांजलि देते हुए ५०० से ज्यादा गाड़ियों का जाट आरक्षण समिति का काफिला हरियाणा के महत्वपूर्ण स्थलों से गुजरता फतेहाबाद पहुंचा। इस दौरान  मार्ग में कई जगहों पर जाट आरक्षण के अध्यक्ष श्री यशपाल मलिक और काफिले का जोरदार स्वागत लोगों ने किया। पंजाब में भी कई पड़ावों से गुजरते समिति के लोगों का भव्य स्वागत हुआ , अंततः यात्रा पंजाब में  शहीद भगत सिंह के समाधि स्थल हुसैनीवाला पहुंची।  हुसैनीवाला में जाट आरक्षण के लिए कुर्बानी के संकल्प के साथ सभी ने शहीद भगत सिंह की समाधी स्थल पर पुष्प अर्पित कर उन्हें  नमन  किया।साथ ही संघर्ष को तेज करने और  उत्तर प्रदेश , पंजाब , उत्तराखंड के आगामी विधान सभा चुनाव में आरक्षण की मांग न माने जाने की दशा में जाट बाहुल्य क्षेत्र में बीजेपी और गठबंधन को खाता नहीं खोलने देने का संकल्प लिया।   इस अवसर पर उनके साथ दिल्ली प्रदेष अध्यक्ष श्री आजाद सिंह लाकड़ा, हरियाणा प्रदेष अध्यक्ष श्री सूबे सिंह ढाका, पंजाब प्रदेष अध्यक्ष सरदार करनैल सिंह भावड़ा के अतिरिक्त कैप्टन भूपेन्द्र सिंह, कृष्ण किरमारा, बी.एस.अहलावत, महेन्द्र सिंह पूनिया, अषोक बलहारा, राजकुमार अडहोली के साथ  बड़ी  संख्या में लोग उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments