Monday, May 20, 2024
spot_img
Homeअन्यमहज एक बड़ी डिस्पेंसरी बन कर रह गया है अशोक विहार का दीपचंद...

महज एक बड़ी डिस्पेंसरी बन कर रह गया है अशोक विहार का दीपचंद बंधु अस्पताल

 अशोक विहार इलाके के दीपचंद बंधू अस्पताल में सुविधाओं की कमी के विरोध में लोग समय समय पर आवाज उठाते रहते हैं लेकिन सरकार और प्रसाशन दोनों का ही रवैया इस मामले में उदासीन रहा है। इलाके के लोगों का मानना है की भव्य और बड़ी बिल्डिंग में बना यह अस्पताल असल में महज एक बड़ी डिस्पेंसरी है। यहाँ अच्छे डॉक्टर और सुविधाओं का अभाव हमेशा रहता है। अस्पताल के ठीक सामने चल रहा यह धरना प्रदर्शन भी इन्ही समस्याओं के विरोध में हो रहा है। सबसे ज्यादा परेशानी गरीब लोगों को होती है क्योंकि वह महँगे प्राइवेट अस्पतालों में अपना इलाज नहीं करवा पाते।  यही वजह है की सिटी ई रिक्शा समिति के चैयरमेन और समाजसेवक संजय मखीजा समय समय पर अस्पताल में सुविधाओं की मांग को लेकर ऐसे प्रदर्शन करते रहे है। इस प्रदर्शन में बड़ी संख्या में लोगों ने अस्पताल में सुविधाओं की कमी को लेकर अपनी नाराजगी जताई। संजय मखीजा कहतें है की इतना बड़ा और भव्य अस्पताल है लेकिन यहाँ महिलाओं के प्रसूस्ती तक की सुविधा उपलब्ध नहीं है।

संजय मखीजा के नेतृत्व में ऐसे कई प्रदर्शन इस अस्पताल के सामने हुए तो इसके नतीजे भी सामने आये और अस्पताल में कुछ सुधार हुआ, लेकिन स्थिति फिर से वहीँ पहुँच गयी और अस्पताल फिर से अपने पुराने ढर्रे पर आ गया। नतीजतन लोगों को एक बार फिर धरना प्रदर्शन का रास्ता अपनाना पड़ा ताकि इनकी आवाज मंत्रियों तक पहुँच सके। 
लोगों की शिकायत है की स्थानीय विधायक भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। इस अस्पताल की बड़ी और भव्य बिल्डिंग को देखर लोग यहाँ आतें हैं और सुविधाओं की कमी और योग्य डॉक्टरों की कमी के चलते अपने जान खतरे में डालते हैं। 
 
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments