जामिया मिल्लिया इस्लामिया में भ्रष्टाचार उन्मूलन पर शपथ ग्रहण

जामिया मिल्लिया इस्लामिया केंद्रीय विश्वविद्यालय के अध्यापकों, अधिकारियों और कर्मचारियों ने ईमानदारी से कार्य करने और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ने की प्रतिज्ञा ली। जामिया के रजिस्ट्रार ए. पी. सिद्दीकी (आईपीएस) ने सभी को भ्रष्टाचार से लड़ने की शपथ दिलाई। सतर्कता जागरूकता सप्ताह के तहत जामिया में यह शपथ दिलाई गयी। प्रतिज्ञा में यह कहा गया कि हम भारत के लोक सेवक सत्यनिष्ठा से यह प्रतिज्ञा करते हैं कि हम अपने कार्यकलापों के प्रत्येक क्षेत्र में ईमानदारी और पारदर्शिता बनाये रखने के लिए निरंतर प्रयत्नशील रहेंगे। सभी ने ये प्रतिज्ञा ली कि वह हमेशा ईमानदारी, सत्य निष्ठा के उचित मानकों के लिए वचनबद्ध हैं। भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में हमेशा साथ देंगे। सभी काम ईमानदारी और पारदर्शी तरीके से करेंगे। जनहित के लिए काम करेंगे। निजी आचरण में ईमानदारी लाएंगे। अपने संगठन के विकास और प्रतिष्ठा के प्रति सचेत रहते हुए कार्य करेंगे। सामूहिक प्रयासों के द्वारा अपने संगठन को गौरवशाली बनाएंगे तथा अपने देशवासियों को सिद्धान्तों पर आधारित सेवा प्रदान करेंगे। अपने कर्तव्य का पालन वो पूरी ईमानदारी से करेंगे और भय अथवा पक्षपात के बिना कार्य करेंगे। भ्रष्टाचार से जुड़ी किसी भी घटना की शिकायत उचित एजेंसी को करेंगे।

 

टिप्पणियाँ
Loading...