रोहिणी में सीलिंग अधिकारियों के समाने आत्मदाह की कोशिश

दिल्ली में चल रही सिलिंग को लेकर पहले ही रोष का महौल बना हुआ था। और इसी को लेकर मंगलवार सुबह रोहिणी के संयज नगर में भी सिलिंग का दस्ता सिलिंग करने पहुंचा। लोगों की सुबह की शुरुआत इस तरह के माहौल के साथ होगी ये किसी ने सोचा भी ना होगा। भारी पुलिसबल के साथ पहुंचा सिलिंग का दस्ता जहां-जहां पहुंचा वहां वहांसिलिंग करता चला गया । लोगों की माने तो सीलिंग करने से पहले उनको कोई नोटिस नहीं दिया गया । जबकि सुप्रिम कोर्ट के आदेश के अनुसार किसी के भी घर और दुकान को सील करने से 48 घंटे पहले नोटिस मिलना चाहिये जो यहां सैंकड़ों की सख्यां में सील हुए मकान मालिक और दुकान मालिकों को नहीं दिया गया। लोगों की माने तो वो पिछले 25 सालों से संजय नगर इलाके में रह रहे हैं । और पानी बिजली का बिल भी बराबर भरते आ रहे हैं । फिर ऐसा क्या हुआ की अचानक इनकी पूरी की पूरी कॉलोनी अवैध हो गयी …सीलिंग करने पहुंचा दस्तां मनमाने तरिके से सील कर रहा था ना किसी के कागज़ देखे ना ही किसी की कोई बात सुनी ….सीलिंग करते वक्त एक लड़की ने तो आत्मदाह तक करने की कोशिश की जिसे देखते हुए सीलिंग दस्ता और पुलिसबलकाफी देर तक लड़की को रोकने और मनाने की कोशिश करता रहा लेकिन लड़की घर को सील ना करने की बात पर अड़ी रही जिसे देखते हुए सीलिंग दस्ते को वहां से खाली हाथ ही लौटना पड़ा । लड़की की माने तो उसके पिता के पास कमाने का कोई ज़रिया नहीं है ऐसे में उनका घर भी अगर सील होता है तो वो लोग कहां जाएंगे और क्या खाएंगे ..इस कांड के बाद इलाके के लोग भी आक्रोष में आ गये । और कैमरे के सामने आपना रोष जाहिर किया

रियों के समाने आत्मदाह की कोशिश

टिप्पणियाँ
Loading...