घनश्याम गुप्ता के घोटालों की खुली पोल

0

घनश्याम गुप्ता ने कराया जल्दबाजी में हॉस्पिटल का उद्घाटन ? क्या आधी अधूरी तैयारियों के साथ उद्घाटन करने से अस्पताल की प्रतिष्ठा को झटका लग रहा है ? या फिर घनश्याम गुप्ता ने महज चुनावी लाभ लेने के लिए लगातार 7 दिन तक उद्घाटन करवाया ?

जी हाँ इस चुनाव में उठ रहे ऐसे सवालों और हॉस्पिटल की तैयारियों का जायजा लेने दिल्ली दर्पण टीवी की टीम श्री अग्रसेन इंटरनेशनल हॉस्पिटल पहुंची तो हॉस्पिटल में सन्नाटा पसरा हुआ था ।रिसेप्शन खाली था।यानी मरीजों की बेहद कमी लग रही थी।जैसे ही घनश्याम गुप्ता को इसके खबर लगी तो वे खुद हॉस्पिटल पहुंचे और तमाम सवालों का जबाब भी दिया।

घनश्याम गुप्ता कुछ भी कहें लेकिन हॉस्प्टिकल से जुड़े ट्रष्टी और प्रत्याशी मानते है की हॉस्पिटल का उद्घाटन जलबादजी के साथ नहीं बल्कि पूरी तैयारियों के साथ होना चाहिए था।हॉस्पिटल में मशीने खुद की यानी हॉस्पिटल की निजी होनी चाहिए।लेकिन घनश्याम गुप्ता ने अपने फायदे के लिए काम किया ।घनश्याम गुप्ता पिछले कई सालों से लगातार हॉस्पिटल की सत्ता पर काबिज है ।इस बार भी पर्दे के पीछे उन्हें ही प्रधान  बताया  जा रहा है।समाज के प्रमुख लोगों और ट्रस्टियों  मानते है कि घनश्याम गुप्ता और लगे आरोपों और  सवालों से टीम हॉस्पिटल से प्रधान पद के प्रत्याशी सुरेंद्र गुप्ता को इसका भारी नुक्सान हो सकता है।चुनावी हार का भी और छवि का भी

टिप्पणियाँ
Loading...