Ghaziabad में Metro में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगे कई लाख रुपये

गाजियाबाद में मेट्रो के उद्घाटन की तारीख भी अभी तक निश्चित नहीं हुई और ठगों ने नौकरी दिलाने के नाम पर एक युवती और युवक से लाखों रुपये की ठगी कर ली। पीड़ितों ने सिहानीगेट थाने में मुकदमा दर्ज कराया है और पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

एक कहावत आप सभी ने सुनी होगी कि गांव बसे नहीं और लुटेरे पहले आ गए । जी हां ऐसा ही एक मामला सिहानी थाना क्षेत्र से सामने आया है, जहाँ मालीवाडा की रहने वाली अंजली से मेट्रो स्टेशन के टिकट काउंटर पर नौकरी लगवाने के नाम पर तीन महीने पहले उससे 80 हजार रुपये की ठगी कर ली गई। अंजली ने बताया कि आजमगढ़ के मौहल्ला कप्तानगंज के रहने वाले इंद्रजीत ने उससे मेट्रो में नौकरी लगवाने के लिए पहले 40 हजार रुपये लिए थे। इसके बाद 15 हजार रुपये नगद और 25 हजार मनी ट्रांसफर के माध्यम से लिए । इसके बाद अंजली ने तीन महीने बीत जाने के बाद जब इंद्रजीत से रुपये वापस मांगे तो उसने अंजली के साथ अभद्रता की। वहीं विजयनगर के रहने वाले अमित कुमार ने बताया कि उसने इंद्रजीत को 70 हजार रुपये दिए थे। उसने जब अपने रुपये वापस मांगे तो उसके साथ इंद्रजीत ने मारपीट की। दोनों पीड़ितो ने सिहानीगेट थाने पहुंचकर मामले में तहरीर दी। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी इंद्रजीत को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के पास से कुछ मोहर व शिक्षा के दस्तावेज भी बरामद हुए हैं।

वही एसपी सिटी से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। पीड़ितों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। ओर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है साथ बाकी गैग की पकड़ के लिए पुलिस टीम ओर जांच शुरू कर दी गयी है ।

हालांकि पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है मगर इस गैंग के मुखिया ओर अन्य शातिर साथी अभी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं जिसके लिए हम उस जनता को सावधान करते है कि वो ऐसे किसी गैंग के झांसे में ना आये जो रिश्वत लेकर लोगों को नौकरी का झांसा देकर ठग रहे हैं ।

टिप्पणियाँ
Loading...