दिल्ली में फिर छाया बर्ड फ्लू का खौफ

0

खुशबू काबरा, संवाददाता

नई दिल्ली।। राजधानी दिल्ली पर एक बार फिर खतरे की घंटी मंडरा रही है। भारत के कुछ राज्यों में अब दिल्ली का नाम भी बर्ड फ्लू की चपेट में शामिल हो गया हैं। पिछले कुछ हफ्तों में मयूर विहार इलाके के सेंट्रल पार्क में लगभग 200 कौवों की मौत हो चुकी है जिसके चलते सरकार ने अधिकारियों को भेजकर कौवों के सैंपल को जांच के लिए भेज दिया हैं। मयूर विहार के पार्क में फिलहाल सैनिटेशन अभियान चलाया जा रहा है।

मयूर विहार सेंट्रल पार्क की हालत काफ़ी गंभीर बताई जा रही है। आपको बता दें कि ऐसे में आम जनता के लिए पार्कों का इस्तेमाल करना या पार्क जाकर सैर करने की अनुमति नहीं है। रोजाना वहां पर कौवों की लगातार मृत्यु होने के कारण अधिकारियों को पड़ोसी राज्यों से आने वाले पोल्ट्री पक्षियों पर नजर रखने को कहा गया हैए ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। केवल मयूर विहार ही नहीं बल्कि देश के तमाम राज्यों में ये फ्लू फैल चुका हैं, जैसे कानपुर में बंद हुआ चिड़िया घर, हरियाणा में करीब 4 लाख पोल्ट्री पक्षियों की मौत, राजस्थान के 11 जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि, महाराष्ट्र के परभणी इलाके में करीब 900 मुर्गियों की मौत आदि।

अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में जितने भी हॉटस्पॉट हैं उन पर नजर रखने के लिए 11 विकसित टीमें जोड़ी गई हैं। मनीष सिसोदिया ने मुर्गी बाजारों, चिड़िया घरों और अन्य जगहों पर नजर रखने का आदेश दे दिया है।आपको बता दें कि डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना संक्रमित लोगों को अपना खास ध्यान रखना होगा हालाकि यह फ्लू आंख से, मुंह से, नाक से निकले वाले फ्लूईड से फैल रहा है।

डॉक्टरों का ये भी कहना है कि कोरोना से ठीक होने के बाद भी इम्यून सिस्टम कमजोर रह जाता है ऐसे में किसी और बीमारी की चपेट में आना और आसान हो जाता है।ऐसे में सावधानी बरतने की जरूरत पशुओं से संबंधित कार्य करने वाले लोगों को भी रखनी पड़ेगी जिसमें माली, जंगलों में काम करने लोग सब शामिल होते हैं। सावधानी खास तौर पर पक्षियों की डेड बॉडी के पास जाएं तो मास्क और ग्लव्स  पहन कर जाएं। और अगर कोई पक्षियों की साफ़.सफाई करें तो मास्क और ग्लव्स  पहन कर करें।

टिप्पणियाँ
Loading...