glam orgy ho spitroasted.pron
total italian perversion. jachub teens get pounded at orgy.
site

रोहिणी इंटरनेशनल हॉस्पिटल चुनाव 22 मई को, कोरोना काल का कष्ट भी बनेगा मुद्दा

-दिल्ली दर्पण ब्यूरो 

दिल्ली। अग्रवाल समाज की दिल्ली ही नहीं देश की सबसे बड़ी संस्था में शुमार इंटरनेशनल हॉस्पिटल रोहिणी के चुनावों का बिगुल बज चुका है। संस्था के करीब 6 हज़ार ट्रष्टी 22 मई को 24 लोगों का चुनाव करेंगे। अभी दो पैनल आमने सामने है और इन पैनलों के प्रत्याशियों के पीछे समाज और सियासत के बड़े चेहरे भी है। हालांकि घनश्याम गुप्ता जावेरी समर्थित पैनल ने पिछले चुनाव में बड़े सियासी चेहरों को धुल चटा दी थी। अब उनमें के बड़ा चेहरा घनश्याम गुप्ता समर्थित “सबका हॉस्पिटल ” टीम के साथ जुड़ा है जबकि विगत चुनावों में मात खा चुके विजेंद्र जिंदल विपक्ष पैनल निष्काम सेवा टीम के संरक्षक बने हुए है। 


पिछले चुनावों से ही पूर्व प्रधान और हॉस्पिटल के चैयरमैन घनश्याम गुप्ता बेशक खुद चुनाव ने लड़ रहे हो लेकिन पैनल बनाने में उनकी भूमिका सर्व विदित है। इस बार “सबका हॉस्पिटल टीम ” को घनश्याम गुप्ता , रामावतार अग्रवाल  , मौजूदा प्रधान सुरेंद्र गुप्ता ने सर्व सम्मति से पैनल तैयार किया है इस पैनल में नरेश एलेन प्रधान पद के उम्मीदवार बनाये गए है।  कोरोना काल में कई टृष्टियों ने मौजूदा मैनेजमेंट पर यह आरोप लगाए की यह हॉस्पिटल आम टृष्टियों के किसी काम नहीं आ सका। जरूरत पर उनका ही हॉस्पिटल किसी काम नहीं आ सकता। हॉस्पिटल के कुछ  टृष्टि आरोप लगा रहे है की कोरोना काल में करीब 300 लोग टृष्टियों से जुड़े परिवार के महामारी में मौत का शिकार हुए लेकिन उन्हें इलाज तो दूर बल्कि हॉस्पिटल में दाखिल तक नहीं होने दिया गया। इस हॉस्पिटल को मैनेजमेंट के कुछ लोगों ने अपने निजी प्रोपर्टी की तरह इस्तेमाल किया। अपने चहेतों और प्रभावशाली लोगों से सम्पर्क बनाने का साधन बनाया। यह हॉस्पिटल केवल कुछ लोगों का ही स्वार्थ साधन का जरिया बन गया।

जाहिर है इनके निशाने पर सुरेंद्र गुप्ता और चैयरमैन घनश्याम गुप्ता जावेरी ही थे।  “निष्काम सेवा ” टीम ने दावा किया कि यदि समाज ने उन्हें समर्थन दिया तो वे निष्काम रूप से सेवा करेंगे और सभी टृष्टियों को सम्मान देंगे। घनश्याम गुप्ता को भी शायद यह अहसास हो गया था, लिहाज़ा उन्होंने समाज के बड़े लोगों से संवाद कर उनकी सहमति से काबिल लोगों की टीम बनाई तो इस टीम का नामा रखा “सबका हॉस्पिटल टीम ” यह नाम रखकर घनश्याम गुप्ता ने यह  सन्देश दिया है की यह हॉस्पिटल सबका है और इसके विकास के लिए सभी का प्रयास होना जरूरी है। इस टीम में प्रधान पद के उम्मीदवार नरेश एलेन है। घनश्याम गुप्ता जावेरी ने कहा की “सबक हॉस्पिटल टीम ” समस्त समाज के समर्थन और सुझाव से बनाई गयी है। उनकी टीम महाराजा अग्रसेन के सिद्धांत “एक रुपया एक ईंट ” की तर्ज पर समाज के सभी लोगों का सहयोग लेगी और इस इंटेरनेशनल हॉस्पीटल को दुनिया के बेहतरीन हॉस्पिटल की श्रेणी में लाकर खड़ा करेगी। प्रधान पद के प्रत्याशी नरेश कुमार एरेन  में गज़ब की प्रतिभा और क्षमता  है। 

बहरहाल टीम का प्रचार पर टीम को समर्थन कर रहे लोगों को देख मुकाबला टक्कर का नहीं लग रहा है। “सबक हॉस्पिटल ” टीम बेहद भारी लग रही है। समाज के लोगों का दावा है की इस चुनाव की रणनीति के पीछे भी घनश्याम गुप्ता जा दिमाग काम कर रहा है। यही वजह है कि जो लोग घनश्याम गुप्ता जावेरी के आलोचक कहे जाते थे आज उनमें से कई बड़े नाम “सबका हॉस्पिटल “टीम के साथ और समर्थन में खड़े है। समाज के सभी लोग जानतें है की इस बड़े हॉस्पिटल में बड़े बड़े नेताओं की भी रूचि रहती है , इनका चुनाव भी कम कलेश वाला नहीं होता। इस वर्ष निष्काम सेवा टीम का चुनाव चिन्ह खाटू श्याम बाबा का धनुष बाण है। यह भी सभी जानतें है की इन दिनों घनश्याम गुप्ता जावेरी खाटू श्याम बाबा का दुनिया का सबसे बड़ा धाम बना रहे है। लिहाज़ा चुटीले अंदाज में यह भी कहा जा रहा है की बाबा श्याम इस चुनाव को कहीं रोचक बन बना दें। 

टिप्पणियाँ
Loading...
bokep
nikita is hot for cock. momsex fick meinen arsch du spanner.
jav uncensored